Alumni Meet with First Year MBA and MCA Students @ HIMCS

Alumni Meet with First Year MBA and MCA Students @ HIMCS
Alumni Meet with First Year MBA and MCA Students @ HIMCS
हिन्द ुस्तान कॉल ेज में आ ेरिएंट ेशन कार्यक ्रम के तहत पुराने छात्रों न े किया नए छात्रों का मार्गदर्शन - उपलब्धिया ें पर मुस्क ुराया हिन्द ुस्तान कॉल ेज, नव प्रवेशित छात्रों को दिया सपन े सच करने का जज्बा कभी वह रोजगार पाने क े लिए संस्थान में पढाई करने आए थ े तो आज कामयाबी का सहरा बा ंधकर लौटे थे। हिन्दुस्तान कॉलेज शनिवार को अपनी उपलब्धिया ें पर मुस्क ुरा रहा था। साथ ही जज्बा दे रहा था नए छात्रों का े सुनहरे भविष्य के सपना ें को साकार करने का। हिन्दुस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एण्ड कम्प्यूटर स्टडीज, मथ ुरा में शनिवार को एमबीए एवं एमसीए प ्रथम वर्ष के विद्याथि र्यों क े लिए ओरिएण्टेशन कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसमें स ंस्थान के प ुराने ब ैच स े क ुल 75 एल्युमिनाई ने हिस्सा लिया। ये पासआउट विद्यार्थी आज देश और विदेश स्तर की कम्पनियों में कार्य कर संस्थान का नाम ऊंचा कर रह ह ैं। एल्युमनाइ र् मीट में इन प ुराने छात्रों ने न सिफ र् प ुरानी यादें ताजा की ं बल्कि नए छात्रों का े कामयाबी के टिप्स भी दिए। सत्र 2016-18 क े एमबीए पासआउट विद्याथी र् रतनजोत सि ंह जा े कि आशियाना हाउसिंग प ्रा. लि. में रिलेशनसिप मैनेजर के पद पर कार्यरत ह ैं ने अपने अनुभव साझा करते हुए कहा कि क्लासरूम टीचिंग अटैण्ड करना निता ंत आवश्यक है आ ैर साथ में यह भी आवश्यक है कि प्रत्येक विद्याथी र् अपने आप को नियमित रूप स े अपग्रेड करता चले। गिटार की ध ुन पर रतनजोत ने अपनी संगीत की प्रतिभा से भी सभी का मन मोहा। इस दा ैरान एमबीए व एमसीए अ ंतिम व द्वितीय वष र् विद्याथि र्यों क े साथ ही दोना ें का ेस ेर्ज में प ्रवेश लेने वाले नव आगुन्तक विद्याथि र्यों ने अपने एल्युमिनाई का े सुना और उनस े आगे बढने की प्रेरणा ली। कार्यक्रम का स ंचालन तनु मारवाह एवं डा. शीतल सचदेवा ने किया। इस दा ैरान संस्थान के सभी शिक्षकगण एव ं स्टाफ उपस्थित रहे। स ंचालन की कमान एमबीए की छात्रा वैष्णवी कोहली एवं एमसीए क े छात्र सौनक गुप्ता ने संभाली। ल ेमन र ेस की तरह है जि ंदगी, हम ें सिखाती है बैल ेंस करना रा ेमा ंच स े भरे इस सम्मेलन में जहां प ुराने छात्र नए छात्रा ें क े लिए प ्रेरणा बने, वहीं शिक्षका ें ने मार्गदश र्न का काम जारी रखा। स ंस्थान के निदेशक डा. नवीन गुप्ता ने कहा कि हमें गव र् है कि हमारे विद्याथी र् संस्थान से प ्राप्त शिक्षा के बल पर अपने करियर में प ्रगतिशील ह ैं। आज आवश्यकता ह ै हमें अपने नेटवक र् का े आ ैर मजबूत बनाने की जिसस े नए ब ैच क े विद्यार्थी अपने सीनियर स े प्र ेरणा लेते ह ुए उनक े अनुभवों स े सीख सकें। आज एमबीए के साथ-साथ एमडब्ल्यूए 1⁄4मैंनेजमेंट बाइ र् वॉकि ंग एराउण्ड1⁄2 से सीखने की आवश्यकता ह ै। जितना हम मार्केट स े सीख सकते ह ैं उतना शायद क्लासरूम स े नहीं। जीवन एक लेमन रेस की भॉति ह ै जो हमें ब ैलेंस करना सिखाती ह ै। आज आवश्यकता ह ै विद्यार्थी 3 इ र्डियट्स, तारे जमीं प े ज ैसी फिल्मों स े प ्रेरणा लेते ह ुए अपने लक्ष्य का े गंभीरता स े समझते ह ुए, अपनी छिपी हुई प्रतिभा को उजागर करने की कोशिश करें। पुरानी याद ें कीं ताजा एमबीए की 2011-13 बैच पासआउट सुरूचि पाण्ड ेय ने प ुरानी यादें ताजा करते ह ुए कहा कि कॉलेज क े दिना ें में वह नियमित रूप स े स ंस्थान द्वारा आयोजित कार्यक ्रमा ें में हिस्सा लिया करती थी आ ैर धीरे-धीरे कार्यक ्रमों का े आया ेजित करना भी शुरू कर दिया। आज यही अनुभव उस े अच्छा इ र्वेन्ट मैनेजर बनाता ह ै। एम.सी.ए. 2006-2009 बैच क े पासआउट दीपक मा ैर्या ने सभी नव आगुन्तक छात्रों का े यह बताया कि सबसे पहले करना क्या ह ै यह निधा र्रित करो? अगर तुम्ह ें जॉब चाहिए तो उसक े लिए इण्डस्टीं के हिसाब स े तैयारी करो आ ैर अगर तुम्हें अपना व्यवसाय शुरू करना है तो उसी दिशा में ज्ञान अजि र्त करो। उन्हा ेंने कहा कि आज वे मा ैया र् सॉफटवेयर प ्रा. लि. नाम स े अपनी फर्म चला रह े ह ै ं जिसका टर्नओवर 50 लाख रूपये प ्रति