Techno-Cultural Fest Cerebrum 2K18 @ AEC

Techno-Cultural Fest Cerebrum 2K18 @ AEC
Techno-Cultural Fest Cerebrum 2K18 @ AEC
Techno-Cultural Fest Cerebrum 2K18 @ AEC
आगराः आनद इजीनियरिग कॉलेज में चल रह तीन दिवसीय तकनीकी एव सास्कृतिक वार्षिकोत्सव सरीबरम 2018 । प्रो. अनिल किशोर सक्सेना, निद ेशक आनंद इजीनियरिंग कॉलेज न े विद्यार्थियों को स ेरीब ्रम 2018 के सफल आयोजन क े लिए बधाई दी एवं उनक े प्रयासों की सराहना की। उन्होंन े स ेरीब ्रम 2018 की सफलता का सम्प ूर्ण श्रेय छात्रों का े द ेत े ह ुए कहा की इस दौरान छात्रों न े जिस अभ ूतप ूव र् कल्पनाशीलता, स ंगठन, न ेत ृत्व, कर्मठता, रचनात्मकता और आत्मविश्वास का परिचय दिया ह ै वह वाकइ र् प ्रशंसा योग्य ह ै उन्हा ेंन े इस बात पर विशेष बल दिया कि आनंद इंजीनियरिंग कॉलेज ‘‘बढ ़े चला े‘‘ क े लक्ष्य आ ैर परिकल्पना क े साथ भविष्य के लिए निर ंतर अग्रसर है। उन्हान े छात्रों की प्रश ंसा करत े हुए कहा की इस प्रकार क े कार्यक्रम ही भविष्य के लिए पृष्ठ भूमि त ैयार करत े हैं एवं उनका आत्मविश्वास बढ ़ात े हैं। उन्हा ेंन े छात्रों को भविष्य के लिए शुभकामनाएँ द ेत े हुए कहा की सफलता-असफलता उनके विश्वास एव ं विचारा ें पर ही निर्भर होती है ं अतः सद ैव बढ़े चलो की सोच लेकर ही आग े बढ े़। समापन समारोह म ें विश्व प ्रसिद्ध ‘‘निशी बैंड’’ की धुनों पर विद्यार्थी झ ूम उठ े। निशी बैंड न े अपनी प ्रस्त ुति भगवान श्री क ृष्ण को नमन करते हुए एक भजन स े श ुरू की फिर विद्यार्थियों को 1970 क े दशक की फिल्मा ें क े गानों पर मंत्रम ुग्ध कर आज की प ्रसिद्ध धुनां पर नाचने क े लिए मजब ूर कर दिया। दिनभर चली प ्रतियोगिताओं म ें छात्रों न े अपनी रूचि अन ुसार प्रतियोगिताओं प ्रतिभाग किया। न ुक्कड नाटकों में प ्रतिभागी टीमों न े नाटक का मंचन कर विभिन्न सामाजिक मुद्दों को उठाया। वहीं छात्रों द्वारा आयोजित की गइ र् र ैम्प वॉक में छात्र-छात्राऐं इ ंडों-व ेस्टन र् फैशन की झलक स ेरिब ्रमा ेत्सव में युवा ट ेंड और फैशन की न ुमाइस करत े हुये भी नजर आये। पारंपरिक साड़ी में लड़कियो ं न े स ंस्कृति क े प्रति अपना लगाव दर्शाया। वहीं, पश्चिमी परिधानों क े साथ भारतीय गहन े पहनकर इंडो-व ेस्टन र् टं ेंड की झलक बिखेरी। आइ र्-क्लिक क्लब क े सदस्य यादगार पला ें को क ैद करन े में ज ुट े रहे। प्रो. ज े एस यादव, क ुलसचिव, आनंद इ ंजीनियरि ंग कॉलेज ने विद्यार्थिया ें को स ंबोधित करते हुए कहा की किसी भी शिक्षण संस्थान की रीढ ़ उसक े विद्यार्थी होते है ं एव ं यह उस स ंस्थान क े लिए गव र् का विषय हा ेता ह ैं कि जब उसके छात्र निरंतर प्रगति करत े हैं और आत्मनिभ र्र बनते हैं। उन्हान े सभी छात्रों को स ेरिब्रम को सफल बनाने क े लिए धन्यवाद दिया।